केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कृषि क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत, फिजी के बीच समझौते को मंजूरी दी

भारत सरकार ने 3 मार्च, 2021 को कृषि और संबद्ध क्षेत्रों में सहयोग के लिए भारत और फिजी के बीच एक समझौते को मंजूरी दी

पीएम मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कृषि मंत्रालय, भारत और फिजी गणराज्य के कृषि मंत्रालय के बीच MoU पर हस्ताक्षर करने को अपनी मंजूरी दे दी। यह समझौता इसके हस्ताक्षर की तारीख पर लागू होगा और यह 5 साल तक लागू रहेगा ।

भारत और फिजी के बीच हस्ताक्षरित समझौता ज्ञापन में विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग का प्रावधान किया जाएगा जिसमें दोनों देशों के निजी क्षेत्रों के बीच संयुक्त उद्यमों को बढ़ावा देना शामिल होगा ।

भारत और फिजी MoU: मुख्य बिंदु

  • समझौता ज्ञापन में वैज्ञानिक विशेषज्ञों, अनुसंधान कर्मियों, तकनीकी प्रशिक्षुओं और विशेषज्ञों के आदान-प्रदान की व्यवस्था की जाएगी; कृषि के लिए बुनियादी ढांचे का विकास; प्रौद्योगिकी हस्तांतरण; कार्यशालाओं और सेमिनारों का आयोजन करके प्रशिक्षण अधिकारियों और किसानों के माध्यम से मानव संसाधन का विकास।
  • भारत और फिजी कृषि वस्तुओं के मूल्य वर्धन और विपणन में निवेश को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करेंगे ।
  • दोनों देशों के कृषि मंत्रालय कृषि के सभी क्षेत्रों में क्षमता विकास के साथ-साथ कृषि उत्पादों के प्रत्यक्ष व्यापार को बढ़ावा देंगे ।
  • मंत्रालय MoU के माध्यम से अनुसंधान प्रस्तावों की संयुक्त योजना और विकास के साथ-साथ कार्यक्रमों और अनुसंधान परियोजनाओं के निष्पादन का भी काम करेंगे ।

इंडो-फिजी वर्किंग ग्रुप:

MoU के तहत भारत और फिजी के बीच एक संयुक्त कार्यदल का भी गठन किया जाएगा। यह समूह योजना, प्रक्रियाएं निर्धारित करेगा और दोनों राष्ट्रों की क्रियांवित एजेंसियों की मदद से अपने लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में सहयोग के कार्यक्रमों की सिफारिश करेगा । संयुक्त समूह हर दो साल में एक बार फिजी और भारत में वैकल्पिक रूप से अपनी बैठक आयोजित करेगा ।

0 Response to "केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कृषि क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत, फिजी के बीच समझौते को मंजूरी दी"

Post a Comment